गुरुवार, 23 अप्रैल 2020

मुख्यमंत्री चौहान ने कोरोना मुक्त हुए 44 व्यक्तियों को इंटरनेट पर दी बधाई...

संवाददाता : भोपाल मध्यप्रदेश 


      मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल के चिरायु अस्पताल से कोरोना मुक्त होकर घर लौट रहे 44 व्यक्तियों को इंटरनेट पर बधाई और शुभकामनाएँ दी। उन्होंने कोरोना संबंधी इलाज में चिरायु अस्पताल की व्यवस्थाओं की सराहना की। ज्ञातव्य है कि इस अस्पताल से विगत 18 अप्रैल को 30 व्यक्ति कोरोना मुक्त होकर अपने घर लौट चुके हैं। आज घर लौट रहे कोरोना मुक्त लोगों में पुलिस के जवान, स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर, कर्मचारी तथा अन्य लोग शामिल हैं।


मुख्यमंत्री चौहान ने कोरोना मुक्त लोगों के स्वस्थ्य होकर घर लौटने पर उनसे कहा कि आपका कोरोना से लड़कर जंग जीतने का जज्बा प्रदेश की जनता के लिये शुभ संदेश है। आप सब ने प्रमाणित कर दिया है कि कोरोना वायरस से डरने की नहीं बल्कि पता लगते ही तुरंत इलाज कराने तथा इससे बचाव के उपाय अपनाने की आवश्यकता है।  चौहान ने इंटरनेट पर घर लौट रहे सभी स्वस्थ्य व्यक्तियों से उनका हालचाल पूछा और सलाह दी कि अपना क्वारेंटाईन पूरा करने के बाद समाज में आज जनों को जागरूक करने में योगदान दें।



मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता से अपील की है कि लॉक डाउन का पूरी तरह पालन करें, स्वयं को और परिवार को कोरोना से बचाने के सभी उपाय अपनायें। उन्होंने चिरायु अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. अजय गोयनका को कोरोना पीड़ितों की समर्पित सेवाओं के लिये साधुवाद दिया।




  • सब इंस्पेक्टर गिरीश त्रिपाठी  ने मुख्यमंत्री से बात करते हुए कहा कि कोरोना से जंग जीतकर हमने बताया है कि यह लाइलाज बीमारी नहीं है। 




  • ऋषि राज सिंग स्वास्थ्य कर्मी ने कहा कि चिरायु अस्पताल में हमें परिवार का माहौल मिला है। इससे हम जल्दी ठीक हुए हैं।




  • डॉ. राजेश त्रिपाठी ने प्रदेश की सरकार और मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि हमें आप पर गर्व है।




  • राजकुमार पांडेय स्वास्थ्य कर्मी ने मुख्यमंत्री को बेहतर प्रबंधन के लिये धन्यवाद दिया।




  • प्रधान आरक्षक श्री महेश शर्मा ने मुख्यमंत्री से कहा कि यह बीमारी सर्दी, खाँसी से भी कमजोर है। हमें तो पता ही नहीं चला कि हमें कोई बीमारी है।




  • विवेक जाटव ने चिरायु अस्पताल की व्यवस्थाओं को विश्व स्तरीय बताया।




  • मास्टर मो. काशिद पिता मोहम्मद सादिक ने मुख्यमंत्री से कहा कि हम अब बेहतर महसूस कर रहे हैं।




  • आलोक श्रीवास्तव स्वास्थ्य विभाग ने मुख्यमंत्री को बेहतर इलाज के लिये धन्यवाद किया।




  • ज्योति चौधरी पुलिस कर्मी ने कहा कि अस्पताल में एक परिवार बन गया है। पति और बच्चे के अलावा भी चिरायु परिवार से जो आत्मीयता मिली है, उसे हम नहीं भूल पाएंगे।




  • चिरायु के डॉक्टर ज्ञानेश्वर मिश्रा और अभिषेक तिवारी को मुख्यमंत्री ने मरीजों के बेहतर इलाज प्रबंधन के लिये धन्यवाद दिया।




चिरायु अस्पताल से कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर, स्वस्थ होकर वीरेंद्र कुमार चौधरी, नवाज, मोह. शादिक, मोह. क़ासिद, ज्योति चौधरी, आलोक श्रीवास्तव, दीपक देशमुख, डॉ. रोहिणी जिंसिवाले, डॉ. ऋषिराज सिंह, तनुश कुमार, महेश शर्मा, एहसान खान, प्रभुदयाल, गिरीश त्रिपाठी, सौरभ चौधरी, सुनील यादव, धर्मेंद्र कुशवाहा, अशोक कुमार साहू, डॉ. सौरभ श्रीवास्तव, राकेश मुंशी, राजेश बाथम, भीकन मालिक, रियाजुद्दीन, शक्ति सिंह यादव, गुंजन जोशी, अभिषेक शर्मा, राजेश त्रिपाठी, निदा खान, तारीख खान, पवन सिंह, रानू मालवीय, मुकेश बागड़े, अजय जैन, मनोज मीणा, वंदना मुंशी, प्रीति ठाकुर, अभिषेक सोनी, गौरव पाल, बलवान सिंह, राजकुमार पांडे, विजय जाटव, सत्येंद्र कुमार पारे, मयंक त्रिपाठी और महेंद्र मर्सकोले पुलिस बैंड की 'हम होंगे कामयाब' की धुनों के साथ 'भारत माता की जय' के नारे के साथ घर रवाना हुए। सभी कोरोना योद्धाओं का पुलिस और जिला प्रशासन द्वारा माला पहनाकर स्वागत किया गया।


लेबल: