शनिवार, 25 अप्रैल 2020

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विश्व मलेरिया दिवस पर इससे बचाव हेतु लोगों को दिए संदेश...

संवाददाता : रांची झारखंड


      मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विश्व मलेरिया दिवस पर इससे बचाव हेतु लोगों को संदेश दिया है। उन्होंने कहा है कि हम अपने प्रयास से मलेरिया नियंत्रण कार्यक्रम के कुशल प्रबंधन में अहम योगदान दे सकते हैं और अपने भविष्य को मलेरिया से सुरक्षित बना सकते हैं।


उन्होंने कहा कि बुखार होने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में रक्त की जांच कराएं। मलेरिया की जांच एवं उपचार सभी सरकारी अस्पतालों प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और स्वास्थ्य उप केंद्रों में मुफ्त उपलब्ध है। स्वास्थ्य सलाह के लिए हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर 104  पर भी कर सकते हैं।



 


मलेरिया के लक्षण


मलेरिया के कुछ मुख्य लक्षण हैं ठंड के साथ बुखार आना, उल्टी होना या उल्टी जैसा लगना, शरीर में ऐंठन एवं सिर दर्द, चक्कर आना, थोड़ी देर में पसीने के साथ बुखार उतर जाना पुनः कुछ समय के अंतराल पर बुखार आना।


मलेरिया से बचाव के उपाय


इसके बचाव के बहुत सरल उपाय हैं सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें। मलेरिया के मच्छर साफ एवं ठहरे हुए पानी में पनपते हैं, इसलिए घर के आस-पास जलजमाव ना होने दें। बड़े जलजमाव वाले क्षेत्रों में कीटनाशक किरासन तेल या जला हुआ मोबिल डालें। पानी की टंकी एवं पानी जमा करने वाले सभी बर्तनों को ढक के रखें। घर के छत पर अनावश्यक रूप से ऐसे सामान ना रखें जिनमें बारिश का पानी जमा हो। सप्ताह में एक दिन फ्रिज, कूलर, फूलदान का पानी हटाकर अवश्य सुखा लें।


लेबल: