रविवार, 3 मई 2020

अचानकमार टाइगर रिजर्व में पकड़ने गए टीम के सदस्यों को 5 घंटे तक ग्रामीणों ने बंधक बनाते हुए जमकर पीटा...

संदीप सिंह ठाकुर @ मुंगेली छत्‍तीसगढ़


      लॉकडाउन के दौरान अचानकमार टाइगर रिजर्व अंतर्गत वनग्राम निवासखार में वन विभाग की टीम शिकार के आरोप में संदिग्ध शिकारियों को पकड़ने गांव गए थे। आपको बतादें की जंगल मे बाघ की गिनती के लिए ट्रेप कैमरे लगाए गए हैं।वहीं वन विभाग की टीम को ट्रेप कैमरे के मॉनिटरिंग के दौरान जंगल में धनुष बाण और हथियार लिए कुछ शिकारियों की तश्वीरें मिली थी। जिनकी गिरफ्तारी करने वन विभाग की टीम सुरही रेंजर सन्दीप सिंह के नेतृत्व में निवासखार गांव में दबिश दिए थे। 



इस दौरान गांव के लोगों ने वन विभाग की टीम पर हमला कर दिया। घटना बीते शनिवार शाम की है। इस हमले में सुरही के रेंजर संदीप सिंह सहित दो अन्य फॉरेस्ट कर्मचारी डिफ्टी रेंजर अमर सिंह और बसंत मानिकपुरी घायल हो गए। जिनका उपचार जारी है। इस बीच ग्रामीणों द्वारा 5 घंटे तक निवासखार में वन कर्मचारियों को बंधक बनाकर रखा गया था। जहां से किसी तरह वन विभाग का अमला जान बचाकर भागा। इस दौरान ग्रामीणों के द्वारा शासकीय बोलेरो वाहन में भी तोड़फोड़ की गई है। वहीं मौके पर ग्रामीणों के द्वारा सुरही रेंजर संदीप सिंह सहित अन्य स्टाफ का मजाक उड़ाते हुए उठक बैठक लगवाया। 



फिलहाल इस पूरे घटनाक्रम के बाद अचानकमार टाइगर रिजर्व की डीएफओ विजया कुर्रे लोरमी थाना पहुँचकर लिखित शिकायत करते हुए दोषी ग्रामीणों पर जल्द ही कार्यवाही की मांग की है।  इसको लेकर मौके पर मौजूद फारेस्ट गार्ड अभिषेक कुर्रे ने बताया की तलाशी के दौरान सात घरों में तीन आरोपियों के घरों से शिकार खेलने में प्रयुक्त सामग्री तीर धनुष, कुल्हाड़ी, फंदा और वन्य प्राणियों के अवशेष सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था।  इस बीच सात घरों में तालाशी ली गई। जहां तीन आरोपियों को हिरासत में लेकर टीम आठवें आरोपी के घर की तलाशी लेने जा रहे थे कि अचानक गांव के ही 15-16 लोग आकर टीम के वाहन को घेर लिए और जप्ती किये सामग्री सहित आरोपियों को बाहर निकलवाकर वन कर्मियों के साथ मारपीट करते हुए उन्हें उठक- बैठक लगवाने लगे। जिसमे महिला स्टाफ भी मौजूद थीं। 



मामले में एटीआर की डीएफओ विजया कुर्रे ने शिकायत पर जांच के बाद कार्यवाही की मांग की है, जिसको लेकर मुंगेली जिले के एडिश्नल एसपी सी डी तिर्की ने जल्द ही तथ्यों की जांच कर उचित कार्यवाही करने की बात कही।


लेबल: