रविवार, 31 मई 2020

आईआईटी रुड़की ने की स्प्रिंग सेमेस्टर 2019-20 को पूरा करने की योजना की घोषणा...

प्रजा दत्त डबराल @ रुड़की उत्तराखंड 


      भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) रुड़की ने स्प्रिंग सेमेस्टर को पूरा करने की घोषणा की है। 2019-20 स्प्रिंग सेमेस्टर के सुचारू और समय पर पूरा करने के लिए संस्थान ने नई योजना तैयार की है जो http://acad.iitr.ac.in/notification/SCP_2019-20.pdf  पर उपलब्ध है।


सेमेस्टर पूरा करने की नई योजना कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न अभूतपूर्व परिस्थितियों को देखते हुए तैयार की गई है। इसमें मौजूदा नियमों में बदलाव करते हुए कई विशेष प्रावधान दिए गए हैं।नई योजना के अनुसार, स्प्रिंग सेमेस्टर 2019- 2020 में छात्रों के प्रदर्शन को प्रोग्राम्स के ऐकडेमिक परफ़ोर्मेंस-बेस्ड टर्मनेशन, स्लो पेस प्रोग्राम्स और ऐसे अन्य क्लॉज़ के लिए नहीं गिना जाएगा।संस्थान ने बिना ग्रेड पॉइंट के पास लेटर ग्रेड को सैटिस्फैक्टरी (S) ग्रेड में बदलने के लिए एक प्रणाली शुरू की है, अगर छात्र इसके लिए अनुरोध करता है।



विभिन्न मूल्यांकन कम्पोनन्ट्स की वेटेज रेंज को भी संशोधित किया गया है। इसके अलावा, छात्रों के पास अपने ग्रेड में सुधार करने के लिए पुन: परीक्षा में बैठने का विकल्प भी होगा।एमटेक (MTech) व पीएचडी (PhD) थीसिस  (Thesis) और बीटेक (BTech) प्रोजेक्ट्स के लिए ऑनलाइन मूल्यांकन मोड शुरू किए गए हैं। जो छात्र अपनी थीसिस (Thesis) में अधिक काम करना चाहते हैं, उन्हें अपने मूल्यांकन को स्थगित करने की अनुमति दी गई है।इसी तरह, एमटेक (MTech) (1 वर्ष) और पीएचडी (PhD) कोर्स के सेमिनार के लिए, जो छात्र तैयार नहीं हैं और उन्हें अधिक समय की आवश्यकता है,वे मूल्यांकन स्थगित करने का अनुरोध कर सकते हैं।


मूल्यांकन अगले सेमेस्टर के पहले 4 सप्ताह के भीतर आयोजित किया जाएगा।लॉकडाउन के दौरान भी आईआईटी रुड़की ने ऑनलाइन शिक्षण विधियों का उपयोग करके सेमेस्टर जारी रखा। सेमेस्टर के पूरा होने पर छात्रों को मिड सेमेस्टर परीक्षाओं में प्रदर्शन व ऑनलाइन शिक्षण के दौरान किए गए मूल्यांकन के आधार पर फाइनल ग्रेडिंग दी जाएगी।


लेबल: