सोमवार, 1 जून 2020

रोजाना विशेष श्रमिक रेलगाडिय़ों को प्रदेश के विभिन्न रेलवे स्टेशनों से चलाया जा रहा है : मनोहर लाल

संवाददाता चंडीगढ़ हरियाणा 


      हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि कोविड-19 वैश्विक महामारी के चलते राज्य सरकार द्वारा प्रदेश से इच्छुक श्रमिकों को उनके गृह राज्यों में पहुंचाने के लिए रोजाना विशेष श्रमिक रेलगाडिय़ों को प्रदेश के विभिन्न रेलवे स्टेशनों से चलाया जा रहा है और इसी श्रृंखला में सोमवार हरियाणा से एक विशेष श्रमिक रेलगाड़ी को भेजा गया है। इसी तरह, हरियाणा के पड़ौसी राज्यों के रहने वाले श्रमिकों को भी बसों के माध्यम से उनके गृृह राज्यों में भिजवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि हरियाणा राज्य की उन्नति व विकास में श्रमिकों का उल्लेखनीय योगदान है।


उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार ने इन श्रमिकों की परेशानियों को समझते हुए उन्हें नि:शुल्क उनके गृह राज्य पहुंचाने की व्यवस्था की है। अपने गृह राज्यों में जाने के इच्छुक श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने की श्रृंखला के तहत आज गुरूग्राम से एक विशेष श्रमिक रेलगाड़ी के माध्यम से 1600 से अधिक श्रमिकों को उनके गृह राज्य उड़ीसा के लिए रवाना किया गया है।



गुरुग्राम से बालासोर (उड़ीसा) के लिए रेलगाड़ी-


सोमवार गुरूग्राम रेलवे स्टेशन से विशेष श्रमिक रेलगाड़ी के माध्यम से 1600 श्रमिकों को बालासोर (उड़ीसा) भेजने का काम किया गया। इस ट्रेन में चार राज्यों नामत: बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल व उड़ीसा के श्रमिकों को रवाना किया गया। राज्य सरकार की ओर से इन श्रमिकों को पानी की बोतल, फूड पैकेट, फेस मास्क व सैनिटाईजर भी उपलब्ध करवाये गए। इस ट्रेन में घर जाते समय श्रमिकों के चेहरे पर खुशी की लहर साफ देखी जा रही थी। ट्रेन में सवार छोटे बच्चों को खिलौने भी दिये गये।


इन श्रमिकों को नि:शुल्क ट्रेन की टिकट के साथ-साथ अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध करवाई गई है, ताकि रास्ते में इन लोगों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़ें। अपने गृह राज्य जाने वाले सभी श्रमिकों को हरियाणा रोडवेज की बसों के माध्यम से गुरूग्राम रेलवे स्टेशन पर लाया गया। इसके उपरांत इन श्रमिकों के स्वास्थ्य की जांच के साथ-साथ अन्य निर्धारित मापदण्डों की पालना भी की गई। 


श्रमिकों के साथ सफर कर रहे बच्चों को खिलौने, बिस्कुट, चिप्स के पैकेट तथा चॉकलेट इत्यादि भी उपलब्ध करवाए गए। सभी श्रमिकों को पुलिस व रेलवे कर्मचारियों के सहयोग से बोगी में बिठाने का काम किया गया। सफर के दौरान यात्रियों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए यात्रियों को जरूरत का सामान भी मौके पर दिया गया और उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी भी दी गई। ट्रेन के सभी डिब्बों में साबुन व सैनेटाइजर्स रखवाए गए थे। ट्रेन में महिला यात्री व बच्चे भी थे जिन्हें सॉफ्ट टॉय भी दिए गए।


सरकार ने मानवता की सोच के साथ उठाए कदम-


हरियाणा सरकार की ओर से मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मानवता की सोच के साथ सभी को उनके परिजनों से मिलने का सुअवसर दिया है। ऐसे में ये श्रमिक सुखद अनुभूति के साथ अपने घर पहुंचें, यही कामना की गई है। हरियाणा प्रदेश विकास की ओर उन्मुख है और निवेशकों की पसंद के कारण यहां रोजगार के द्वार खुले हैं, ऐसे में फिर से रोजगार के लिए हरियाणा प्रदेश में इनका स्वागत हैं।


लेबल: