शनिवार, 22 अगस्त 2020

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ऊर्जा प्रक्षेत्र के 1,341 करोड़ 31 लाख रुपये की लागत से विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन...

संवाददाता : पटना बिहार 




बिहार एक झलक में, बिहार की प्रमुख खबरें  :




      मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कर-कमलों द्वारा शनिवार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ऊर्जा प्रक्षेत्र के 1,341 करोड़ 31 लाख रुपये की लागत से विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन, 3130 करोड़ 54 लाख रुपये की लागत से जर्जर तार बदलने के कार्य का लोकार्पण एवं 383 करोड़ 52 लाख रुपये की योजनाओं का शिलान्यास और कार्यारम्भ किया गया।

👉वहीं मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि हमारा सपना है कि प्रीपेड मीटर काम पूरा किया जाय। और एजेंसियों को लगाकर प्रीपेड का काम पूरा करें। हमलोग सबको प्रीपेड देंगे।

👉मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की अद्यतन स्थिति से संबंधित समीक्षा बैठक की। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि RT-PCR जांच की संख्या और बढ़ायें। कोरोना एक्टिव के ज्यादा मरीज वाले जिलों में टेस्टिंग की संख्या और बढ़ाने की आवश्यकता है। उन्होंने दियारा और टाल इलाके में भी ज्यादा से ज्यादा जांच करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि RT-PCR मशीनों की और उपलब्धता जल्द सुनिश्चित करायें ताकि जांच की संख्या में और वृद्धि हो सके।



👉वहीं मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से संबंधित सभी आंकड़े अपडेट रखें और उसके आधार पर रणनीति बनाकर काम करें। मास्क के प्रयोग के लिए लोगों को प्रेरित करें। इसके प्रयोग से होने वाले फायदे और नहीं प्रयोग करने पर होने वाले नुकसान के बारे में भी बताएं। माइकिंग एवं अन्य प्रचार माध्यमों से लोगों को अवगत कराएं। साथ ही उन्होंने कहा कि सभी विभागों की वर्किंग एजेंसीज कार्य स्थल पर कार्यरत लोगों को मास्क पहनाना सुनिश्चित करे।

👉मुख्यमंत्री के निर्देश पर कोरोना संक्रमण की जांच तेजी से करायी जा रही है। बिहार की रिकवरी रेट बढ़कर 78.05 प्रतिशत हो गई है, जो राष्ट्रीय औसत 74.30 प्रतिशत से लगभग 4 प्रतिशत अधिक है। राज्य में पॉजिटिविटी दर भी लगातार घट रही है।

👉आपदा प्रबंधन विभाग बाढ़ से निपटने को लेकर सतर्क है। नदियों के बढ़े जलस्तर से बिहार के 16 जिलों के कुल 130 प्रखंडों की 1,322 पंचायतें प्रभावित हुई हैं। खगड़िया में 01 और समस्तीपुर में 05 राहत शिविर चलायी जा रही है। 371 कम्युनिटी किचन चलाये जा रहे हैं, जिनमें प्रतिदिन 2,79,955 लोग भोजन कर रहे हैं। अब तक प्रभावित इलाकों से NDRF, SDRF और बोट्स के माध्यम से 5,50,341 लोगों को निष्क्रमित किया गया है।

👉मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने गणेश चतुर्थी के अवसर पर प्रदेश एवं देशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। आज के दिन भगवान गणेश को बुद्धि, समृद्धि और सौभाग्य के देवता के रूप में पूजा जाता है।

👉कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर सीतामढ़ी जिला प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। जिलाधिकारी ने वरीय पदाधिकारियों एवं स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने वरीय पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि कंटेंमेंट जोन में नियमित निरीक्षण की मॉनिटरिंग करें और प्रतिदिन की रिपोर्ट मुझे सौंपे। साथ ही बीडीओ, सीओ, थानाध्यक्ष नियमित रूप से अपने संबंधित कंटेंमेंट जोन में जाकर निरीक्षण करें।




👉लॉकडाउन के दौरान वापस लौटे कामगारों/श्रमिकों को जिले में रोजगार मुहैया कराने के लिए बेतिया जिला प्रशासन कृत संकल्पित है। जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में ही टेक्सटाइल्स, चमड़ा उद्योग, बैट्स, जैकेट्स आदि का कलस्टर बनाने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। उन्होंने रेडिमेड गारमेंट कुटीर उद्योग लगाने हेतु सूरत से वापस आये धर्मवीर प्रसाद को 5 लाख रुपये और सूरज कुमार यादव को पेवर ब्लॉक संयंत्र हेतु 10 लाख रुपये का लोन सेंक्शन लेटर सौंपा।

👉मधुबनी जिला पदाधिकारी ने कृषक उत्पादक संगठन निर्माण, संवर्द्धन योजना और कृषि आधारभूत संरचना निधि योजना को लेकर जिला स्तरीय निगरानी समिति (डी.एम.सी.) और जिला स्तरीय अनुश्रवण समिति (डी.एल.एम.सी.) की बैठक की। बैठक में जिले के प्रत्येक प्रखंड स्तर पर कृषक उत्पादक संगठन निर्माण एवं कृषि आधारभूत संरचना निधि योजना अंतर्गत पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट को लेकर 3 % ब्याज सबवेंशन पर चर्चा की गई।

👉बक्सर जिला पदाधिकारी ने गणेश चर्तुथी एवं मुहर्रम को लेकर जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक की। उन्होंने जिलेवासियों से पर्व अपने-अपने घरों में ही सादगी से मनाने की अपील की। साथ ही उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में सार्वजनिक स्थलों पर धार्मिक प्रतीक को रखने की अनुमति नहीं दी जाएगी। मुहर्रम के अवसर पर सिपर अथवा अखाड़े का कोई जुलूस नहीं निकालने का निर्देश दिया।

👉मुख्यमंत्री की सात निश्चय योजना को शत-प्रतिशत पूरा करने को लेकर मोतिहारी जिला प्रशासन संकल्पित है। इसी कड़ी में जिलाधिकारी ने सात निश्चय योजना की समीक्षा की। उन्होंने नगर परिषद और नगर पंचायत के कार्यपालक पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि ‘हर घर नल का जल’ एवं ‘पक्की गली-नाली’ योजना को 15 दिनों के अंदर पूरा कर लें।

👉अररिया जिला पदाधिकारी ने सभी अंचलाधिकारी, एमओआईसी एवं संबंधित पदाधिकारी के साथ आपदा प्रबंधन की समीक्षा बैठक की। उन्होंने प्रवासी मजदूर निष्क्रमण सहायता योजना के तहत श्रमिकों को दी जाने वाली एक हजार रुपये की सहायता राशि से संबंधित लंबित भुगतान का निपटारा शीघ्र सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।


लेबल: