शुक्रवार, 11 सितंबर 2020

भारत-चीन सीमा पर 12500 फीट की ऊंचाई पर स्वास्थ्य शिविर...

संवाददाता : धारचूला पिथौरागढ़ उत्तराखंड 


      उत्तराखंड में एनएचपीसी के धौलीगंगा पावर स्टेशन परियोजना की ओर से शुक्रवार को सीमान्त के कुटी, नाभी, रोनकांग और गुंजी गांव में निशुल्क मेडिकल कैंप लागया गया।


12500 फीट की ऊंचाई पर लगे इस निशुल्क स्वास्थ्य शिविर में मेडिकल टीम ने एक हजार से ज्यादा लोगों को जांच के बाद दवा वितरण किया।बता दें कि परियोजना द्वारा सीमांत के गांवों में स्वास्थ्य सुविधाओं को लोगो तक पहुंचाने का कार्य लगातार जारी है।



अब तक दारमा, व्यास घाटी और पांगला के तीन हजार से ज्यादा लोगो को निशुल्क स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिल चुका है। मुख्य महाप्रबंधक विश्वजीत बासु ने कहा कि सीमांत क्षेत्र में कोरोना संक्रमण के कारण जारी लॉकडाउन के समय से ही ग्रामीणों को स्वास्थ्य संबंधित सुविधा प्रदान करने के लिए एनएचपीसी की मुहिम जारी है।


उप जिलाधिकारी अनिल कुमार शुक्ला ने बताया कि व्यास घाटी के जनप्रतिनिधियों के द्वारा सीमांत में मेडिकल कैंप लगाने का आग्रह किया गया था। एनएचपीसी के सहयोग से इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य शिविर लगाया गया है। सीमान्त के दुर्गम गांव में स्वास्थ्य सेवा से मरहूम लोगो के लिए निशुल्क स्वास्थ्य शिविर लगाने पर प्रधान कुटी धर्मेंद्र कुटियाल, नाभी गांव के प्रधान सनम नबियाल, रोनकांग प्रधान अंजू रौंकली और गुंजी प्रधान सुरेश गुंज्याल ने आभार प्रकट किया।


लेबल: