मंगलवार, 1 सितंबर 2020

कोविड-19 की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार पूरी तरह सजग : मुख्यमंत्री

संवाददाता : पटना बिहार


बिहार एक झलक में, बिहार की प्रमुख खबरें  :


      कोविड-19 की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार पूरी तरह सजग है। इसकी रोकथाम को लेकर समुचित कार्रवाई की जा रही है। माननीय मुख्यमंत्री के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग अतिरिक्त RT-PCR मशीन लगाने की कार्रवाई कर रहा है। इन RT-PCR मशीनों के लगने के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों की जांच में और तेजी आएगी। इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग लगातार क्वॉलिटी इम्प्रूवमेंट एवं बेतहर इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए भी काम कर रहा है।

वहीं बिहार में कोरोना संक्रमण मरीजों की रिकवरी रेट में उत्तरोत्तर वृद्धि हो रही है। बिहार की रिकवरी रेट 87.70 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत से लगभग 11 प्रतिशत अधिक है।

श्रमिकों एवं कामगारों को रोजगार मुहैया कराने को लेकर राज्य सरकार तत्पर है। मुख्यमंत्री के निर्दश पर लॉकडाउन अवधि से लेकर अभी तक 05 लाख 60 हजार 201 योजनाओं के अंतर्गत 14 करोड़ 30 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है।

मुख्यमंत्री के निर्दश पर बाढ़ से निपटने को लेकर आपदा प्रबंधन विभाग हर स्तर पर काम कर रहा है। नदियों के बढ़े जलस्तर से बिहार के 16 जिलों के कुल 130 प्रखंडों की 1,333 पंचायतें प्रभावित हुई हैं। समस्तीपुर में 04 और खगड़िया में 1 राहत शिविर चलायी जा रही है। इन सभी 5 राहत शिविरों में लगभग 4,759 लोग आवासित हैं। 45 कम्युनिटी किचेन चलाए जा रहे हैं, जिनमें प्रतिदिन 39,863 लोग भोजन कर रहे हैं। सभी बाढ़ प्रभावित जिलों में NDRF और SDRF की टीमें प्रतिनियुक्त है।




भारत रत्न पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि प्रणव मुखर्जी प्रख्यात राजनेता, कुशल प्रशासक, प्रखर वक्ता एवं राजनीति के ऐसे अजातशत्रु थे, जिन्हें पक्ष और विपक्ष समान रूप से आदर और सम्मान देते थे। उनका जाना एक युग का अंत है। उनका निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर शांति तथा उनके परिजनों एवं प्रशंसकों को दु:ख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

वहीं मुख्यमंत्री ने हजरत शाह हिलाल अहमद कादरी साहब के निधन पर भी गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हजरत साहब ख्याति प्राप्त इस्लामिक स्कॉलर तथा बिहार के मशहूर आलिम-ए-दीन थे। हजरत साहब बिहार मदरसा बोर्ड और बिहार राज्य हज कमिटी के पूर्व सदस्य भी रह चुके थे। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से प्रार्थना कि उन्हे जन्नत में अहम मकाम अता करें और उनके परिवार वालों को इस अपूरणीय क्षति को सहन करने की ताकत दें।

आगामी बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर पटना जिला के लोगो का औपचारिक अनावरण जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला पदाधिकारी के द्वारा हिंदी भवन सभागार में किया गया। लोगो के माध्यम से कोविड-19 के आवश्यक प्रोटोकॉल का पालन करने के साथ मतदान हेतु सभी वर्गों को प्रेरित किया जाएगा। अनावरण कार्यक्रम के उपरांत जिलाधिकारी ने सभी कोषांग के अधिकारियों के साथ बैठक की। साथ ही उन्होंने प्रत्येक कोषांग के संचालन स्थल तथा कार्य की प्रगति की जानकारी प्राप्त कर आवश्यक निर्देश दिया।


बेतिया जिलाधिकारी ने कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम हेतु किये जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक सहायक समाहर्ता एवं सिविल सर्जन के साथ की। इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले 50 वर्ष के ऊपर के कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों पर विशेष ध्यान रखते हुए नियमित रूप से डॉक्टरों की टीम द्वारा स्वास्थ्य जांच करायी जाय।

बेगूसराय जिला पदाधिकारी ने ‘संबल’ योजना अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए चयनित लाभुकों को सहायक उपकरण प्रदान किया। इस अवसर पर सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा कोषांग एवं बुनियाद केंद्र के जिला प्रबंधक भी मौजूद थे।

विधानसभा आम निर्वाचन 2020 को लेकर गया जिला प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है। इसी कड़ी में समाहरणालय परिसर में जीविका दीदियों के द्वारा आकर्षक रंगोली बनाकर जिले के मतदाताओं को मतदान करने हेतु संदेश दिया गया। जिसका उद्घाटन जिलाधिकारी ने फीता काटकर किया। साथ ही जिलाधिकारी ने भारत स्काउट एंड गाइड के कैडेट्स द्वारा जागरूकता रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर मुंगेर जिला प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है। 2 दिनों के मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण के उपरांत जिला स्तर के सभी पदाधिकारियों एवं कोषांगों के पदाधिकारियों को EVM/VVPAT से संबंधित प्रशिक्षण दिया गया। जिला पदाधिकारी ने कहा कि प्रशिक्षण गहन एवं गुणवत्तापूर्ण होनी चाहिए। पूरी तन्मयता के साथ EVM/VVPAT के संचालन एवं मतदान प्रक्रिया को समझें।

आगामी विधानसभा निर्वाचन-2020 में मतदाताओं की सक्रिय एवं प्रभावी सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु सारण जिलाधिकारी द्वारा समाहरणालय परिसर से दो मतदाता जागरूकता रथों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि जिनका भी नाम मतदाता सूची में नहीं है वे लोग ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर अपना नाम मतदाता सूची में जुड़वा सकते हैं।

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तैयारी बक्सर जिला प्रशासन ने शुरू कर दी है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने मतदाताओं को मतदान हेतु प्रेरित करने एवं आवश्यक सुविधाओं की जानकारी देने हेतु मतदाता जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर समाहरणालय से रवाना किया।


लेबल: