सोमवार, 14 सितंबर 2020

मुरादाबाद से खाली आई नीट स्पेशल ट्रेन, वापसी में सिर्फ 12 अभ्यर्थी ही रवाना...

संवाददाता : लख़नऊ उत्तरप्रदेश 


      रेलवे ने रविवार को राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के अभ्यर्थियों की सहूलियत के लिए विशेष ट्रेन तो चलाई, मगर यहां भी लेटलतीफी हावी रही। नतीजा यह कि ट्रेन देहरादून तो आई, मगर पूरी खाली। प्रशासन ने अभ्यर्थियों को रेलवे स्टेशन से परीक्षा केंद्र तक पहुंचाने के लिए परिवहन की व्यवस्था भी की थी, मगर ट्रेन से एक भी अभ्यर्थी के न पहुंचने पर सारी व्यवस्था धरी रह गई। वहीं, शाम साढ़े सात बजे वापसी में भी सिर्फ 12 अभ्यर्थी ही ट्रेन से रवाना हुए।


देहरादून रेलवे स्टेशन के मुख्य वाणिज्य निरीक्षक एसके अग्रवाल ने बताया कि रेलवे ने नीट में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों की सहूलियत के लिए रविवार को मुरादाबाद से देहरादून के बीच स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया था। 13 कोच वाली यह ट्रेन सुबह सवा तीन बजे मुरादाबाद से देहरादून के लिए रवाना हुई। कांठ, स्योहारा, धामपुर, नगीना, नजीबाबाद, लक्सर, हरिद्वार और रायवाला होते हुए सुबह 8ः40 बजे देहरादून पहुंची।



स्टेशन पर अभ्यर्थियों की सहूलियत के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम और प्रशासनिक अधिकारी भी तैनात किए गए थे।ट्रेन के दून पहुंचने के काफी देर बाद भी किसी कोच का दरवाजा नहीं खुला तो अधिकारी हैरत में पड़ गए। इसके बाद ट्रेन का निरीक्षण किया गया तो उसमें एक भी शख्स नहीं था। ट्रेन का पूरी तरह खाली दून पहुंचना कहीं न कहीं रेलवे की खामी को उजागर कर रहा है। जानकारों की मानें तो जिन अभ्यर्थियों को सुविधा देने के लिए रेलवे ने यह स्पेशल ट्रेन चलाई, उन्हें इसकी जानकारी ही नहीं थी।


रेलवे ने इस ट्रेन के संचालन का आदेश शनिवार रात ही जारी किया। अगर रेलवे दो दिन पहले इस ट्रेन के संचालन की घोषणा कर देता तो जरूर अभ्यर्थी इस व्यवस्था का लाभ उठा पाते। जानकारों की मानें तो अधिकांश अभ्यर्थी शनिवार रात ही दून पंहुच गए थे।


लेबल: