गुरुवार, 10 सितंबर 2020

सीएसआर गतिविधियों में गुणवत्तायुक्त शिक्षा के लिए और प्रयासों की आवश्यकता : जिला कलक्टर

संवाददाता  : जयपुर राजस्थान


      जिला कलक्टर अन्तर सिंह नेहरा ने कहा है कि गुणवत्तायुक्त शिक्षा सभी विद्यार्थियों का अधिकार है और राजकीय प्रयासों के साथ अगर सीएसआर गतिविधियों में कम्पनियों एवं उद्योगों द्वारा इस ओर और अधिक प्रयास किए जाएं तो इस क्षेत्र में और बेहतर कार्य किया सकता है। 

 

नेहरा ने बुधवार को महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय (अंग्रेजी माध्यम) नवीन विद्याधर नगर, जयपुर में एच.पी.सी.एल. कि सी.एस.आर.योजना के अंतर्गत स्मार्ट क्लासरूम, सैनिटरि नैप्किन वेंडिंग मशीन और इन्सीनिरेटर ,वटर कूलर और प्यूरिफायर का उद्घाटन करते हुए यह बात कही। उन्होंने एचपीसीएल की इस कार्य के लिए सराहना करते हुए और भी राजकीय विद्यालयों को इन सुविधाओं से जोड़ने के लिए आग्रह किया। जयपुर जिले में 75 से भी अधिक विद्यालयों में यह सुविधा पहुँचाई जा रही है।

 


 

एचपीसीएल द्वारा 25 विद्यालयों में स्मार्ट क्लासरूम प्रारम्भ किए जा रहे हैं जिनसे छात्र-छात्राएं डिजिटल माध्यम से पढाई करके साथ ही ऑडियो-वीडियो के माध्यम से ऑनलाइन कक्षा भी ले सकेंगे। इसी प्रकार 75 विद्यालयों में सेनेट्री नेपकिन वेंडिंग मशीन एवं सेनेट्री नेपकिन इन्सीनिरेटर तथा 450 डस्टबिन एवं 30 विद्यालयों में वाटर प्यूरिफायर  एवं वॉटर कूलर स्थापित किए जा रहे हैं।

 

इस अवसर पर एचपीसीएल जयपुर के महाप्रबन्धक संजय कुमार शर्मा ने बताया कि एचपीसीएच हर संभव तरीके से समाज में जीवन की गुणवत्ता में सुधार का प्रयास जारी रखेगा। 

 

महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय के प्रधानाध्यापक बच्चू सिंह धाकड़ ने जिला कलक्टर एवं एचपीसीएच को उनके विद्यालय में स्मार्ट क्लासेज एवं अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर मुख्य प्रबन्धक एचपीसीएल राहुल दीक्षित, एडीपीसी समसा जयपुर बी.एल जांगिड़, वरिष्ठ प्रबन्धक सतीश कुमार, प्रबन्धक पुष्पेन्द्र सिंह सोढा, अन्य अधिकारी एवं िविद्यालय के शिक्षक उपस्थित थे।

लेबल: