बुधवार, 2 सितंबर 2020

टेक्सटाइल, रक्षा एवं उड्डयन क्षेत्र में होगा 4000 करोड़ रूपये का निवेश : मुख्यमंत्री

संवाददाता  : जयपुर राजस्थान


      मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश में जल्द ही टेक्सटाइल, रक्षा एवं उड्डयन क्षेत्रों में और अधिक सुविधाओं का विकास होगा। इसके लिए राज्य सरकार ने अन्तर्राष्ट्रीय कम्पनी श्री वल्लभ पित्ती (एस.वी.पी.) ग्रुप के साथ 4000 करोड़ रूपये के निवेश के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किये हैं। 

 

गहलोत की उपस्थति में बुधवार को मुख्यमंत्री निवास पर राज्य सरकार के उद्योग विभाग और एस.वी.पी. इंटरनेशनल ग्रुप के बीच सहमति पत्र हस्ताक्षरित किया गया। इसके तहत कंपनी की ओर से राजस्थान में रक्षा एवं एयरोस्पेस परियोजना, एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस, रिपेयर एण्ड ओवरहॉल (एम.आर.ओ) प्रोजेक्ट, एक उड्डयन अकादमी तथा टेक्सटाइल से संबंधित एक परियोजना विकसित करने का प्रस्ताव है। इस निवेश से प्रदेश में 4000 व्यक्तियों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

 


 

इस अवसर पर उद्योग मंत्री परसादीलाल मीणा, उद्योग राज्यमंत्री अर्जुन सिंह बामणिया, मुख्य सचिव राजीव स्वरूप अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त निरंजन आर्य, एस.वी.पी. ग्रुप के चेयरमैन वल्लभ पित्ती तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे। उद्योग विभाग के प्रमुख शासन सचिव नरेशपाल गंगवार, तथा ग्रुप के कार्यकारी निदेशक प्रवीण शैली ने एमओयू पर हस्ताक्षर किये।

 

इससे पूर्व कम्पनी के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री की अध्यक्षता मेंआयोजित बैठक में निवेश प्रस्तावों के विषय में प्रस्तुतीकरण दिया। राज्य सरकार इन परियोजनाओं के त्वरित क्रियान्नवयन हेतु प्रमुख शासन सचिव, उद्योग की अध्यक्षता में एक समिति गठन करने के निर्देश दिए हैं।

 

आयुक्त निवेश एवं अप्रवासी भारतीय इस समिति के सदस्य सचिव हाेंेगे तथा प्रबंन्ध निदेशक रीको, निदेशक नागरिक उड्डयन, संबंधित जिला कलेक्टर तथा एस.वी.पी. इंटरनेशनल गु्रप के प्रतिनिधि सदस्य होंगे। 

लेबल: