गुरुवार, 2 अप्रैल 2020

मुख्यमंत्री को ’कोविड-19 राहत कोष’ के लिए 33 करोड़ से अधिक के चैक भेंट...

संवाददाता  : जयपुर राजस्थान


      मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को गुरूवार को मुख्यमंत्री निवास पर सीएम रिलीफ फण्ड ’कोविड-19 राहत कोष’ में 33 करोड़ से अधिक के चैक भेंट किए गए। कोविड-19 राहत कोष में अब तक करीब 67 करोड़ रूपये की राशि जमा हुई है।

 


 

गहलोत को ऊर्जा मंत्री बीडी कल्ला ने 9 करोड़ 53 लाख 26 हजार रूपये के चैक भेंट किए। यह राशि तीनों डिस्कॉम के अधिकारियों और कर्मचारियों के एक दिन के वेतन के रूप में कोविड-19 राहत कोष में दी गई है। प्रमुख शासन सचिव ऊर्जा श्री अजिताभ शर्मा ने बताया कि जयपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड की ओर से 3 करोड़ 67 लाख 51 हजार रूपये, अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड की ओर से 3 करोड़ रूपये तथा जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड की ओर से 2 करोड़ 85 लाख 75 हजार रूपये का योगदान दिया गया है। पूर्व में 1 करोड़ 11 लाख रूपये का चैक ऊर्जा विकास निगम द्वारा भेंट किया गया था। इस प्रकार अब तक कुल 10 करोड़ 64 लाख 26 हजार रूपये का योगदान ऊर्जा विभाग द्वारा कोविड-19 राहत कोष में किया गया है।

 

मुख्यमंत्री को राजस्थान स्टेट वेयरहाउस कॉर्पोरेशन की ओर से 11 करोड़ रूपये का चैक कृषि मंत्री लालचंद कटारिया ने भेंट किया। उन्होंने राजस्थान स्टेट सीड्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड की ओर से 51 लाख रूपये तथा राजस्थान राज्य बीज एवं जैविक प्रमाणीकरण संस्था की ओर से 25 लाख रूपये का चैक भी कोविड-19 राहत कोष में प्रदान किया। इस अवसर पर प्रमुख सचिव कृषि नरेशपाल गंगवार एवं कृषि आयुक्त डॉ. ओमप्रकाश उपस्थित थे।

 

राजाराम आंजणा आश्रम ट्रस्ट शिकारपुरा, जोधपुर की ओर से राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने एक करोड़ 38 लाख रूपये का चैक भेंट किया। राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल की ओर से चेयरमैन पीके गोयल ने 11 करोड़ रूपये का चैक मुख्यमंत्री को कोविड-19 राहत कोष के लिए भेंट किया।

 

सहायक उप निरीक्षक भर्ती-1996 के 72 पुलिस अधिकारियों की ओर से 2 लाख 38 हजार रूपये का योगदान कोविड-19 राहत कोष में दिए गए। यह चैक पुलिस निरीक्षक सतर्कता जयपुर नगर निगम राकेश यादव, पुलिस निरीक्षक गुरूदत्त सैनी और बीकानेर के पुलिस निरीक्षक पृथ्वीपाल सिंह तथा रोहित श्रीवास्तव ने भेंट किए।

 

लेबल: