रविवार, 26 अप्रैल 2020

मुख्यमंत्री ने दिए सभी कलेक्टरों को ओला से फसल क्षति का आंकलन करने और पीड़ितों को राहत पहुंचाने के निर्देश...

संवाददाता : रायपुर छत्‍तीसगढ़


       मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के रायगढ़, जशपुर, सूरजपुर जिले सहित सरगुजा, बिलासपुर संभाग के अन्य जिलों में आंधी-तूफान एवं ओलावृष्टि के संबंध में संबंधित जिलों के जनप्रतिनिधियों एवं कलेक्टरों से दूरभाष पर चर्चा कर स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने आंधी-तूफान, ओलावृष्टि की वजह से जान-माल सहित फसलों के नुकसान का सर्वे एवं आंकलन कर पीड़ितों को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिए हैं।


    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर सूरजपुर जिले के ग्राम भरवाही के 6 बेघर हुए परिवारों को फिलहाल शिवप्रसाद नगर के छात्रावास में अस्थाई तौर पर ठहरा कर उनके भोजन की निःशुल्क व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा कर दी गई है। ज्ञातव्य है कि 25 अप्रैल शनिवार की रात को सूरजपुर जिले में आए भीषण आंधी तूफान की वजह से 6 ग्रामीणों के घर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए थे। जिला प्रशासन द्वारा इन बेघर परिवारों के सभी सदस्यों को छात्रावास में आश्रय प्रदान करने के साथ ही उनके भोजन की व्यवस्था की गई है।



कलेक्टर दीपक सोनी ने ग्राम भरवाही सहित आसपास के गांवों का दौरा कर आंधी तूफान और ओलावृष्टि से हुए नुकसान का जायजा लिया। इस दौरान पीड़ित परिवारों से भी उन्होंने मुलाकात की और कहा कि शासन-प्रशासन द्वारा उन्हें हर संभव मदद दी जाएगी। कलेक्टर ने राजस्व एवं कृषि विभाग के अधिकारियों को आंधी तूफान और ओलावृष्टि की वजह से हुए नुकसान का तत्काल सर्वे कर पीड़ितों को राहत मुहैया कराने हेतु प्रकरण तैयार करने के निर्देश भी दिए हैं।


जिले के विद्युत विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं अन्य विभागों के अधिकारियों को भी युद्ध स्तर पर राहत कार्य संचालित कर जिले में सामान्य स्थिति बहाल करने के निर्देश दिए हैं।


लेबल: