मंगलवार, 2 जून 2020

निरोगी राजस्थान‘ अभियान में ब्रांड एंबेसेडर की भूमिका निभाएंगे ‘स्वास्थ्य मित्र‘ : चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री

संवाददाता  : जयपुर राजस्थान


      चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि ‘निरोगी राजस्थान‘ अभियान को धरातल पर उतारने के लिए चुने गए स्वास्थ्य मित्र ब्रांड एंबेसेडर का काम करेंगे। स्वास्थ्य मित्रों का सही चयन प्रदेश के चिकित्सा विभाग के लिए क्रांतिकारी कदम साबित हो सकता है।

 

चिकित्सा मंत्री मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चिकित्सा विभाग के संयुक्त निदेशकों, सीएमएचओ, डिप्टी सीएमएओ सहित अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी राजस्व गांवों से 1-1 महिला और पुरुष चयन किया जाएगा। ये स्वास्थ्य मित्र राज्य और केंद्र सरकार की स्वास्थ्य से जुड़ी कल्याणकारी योजनाओं को गांव-गांव, ढाणी-ढाणी तक ले जाने का काम करेंगे, ताकि ज्यादा से ज्यादा योजनाओं का लाभ उठा सकें। इनका कार्य लोगों को स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता लाने और उन्हें स्वस्थ जीवनशैली अपनाने के लिए प्रेरित करना भी होगा।

 


 

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि राज्य सरकार के एक वर्ष पूर्ण होने पर मुख्यमंत्री ने ‘निरोगी राजस्थान‘ अभियान की शुरुआत की थी और इसके लिए 27 हजार से ज्यादा लोगों को प्रशिक्षण भी दे दिया गया था। कोविड के दौरान कुछ महीनों से यह अभियान स्थिर था। उन्होंने कहा कि कोरोना की रोकथाम के साथ स्वास्थ्य सेवा से जुड़े अधिकारियों को ‘निरोगी राजस्थान‘ अभियान को गति देनी होगी। उन्होंने कहा कि यदि लोग अभियान के तहत सुझाए 10 बिंदुओं पर काम करेंगे तो उनके बीमार होने की आशंका काफी हद तक कम हो जाएगी और वे कोरोना सहित अन्य बीमारियों का मुकाबला बेहतर तरीके से कर पाएंगे।

 

अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य मित्र विभाग और जनता के बीच अहम कड़ी की भूमिका निभाएंगे। इनके चयन से योजनाओं को ग्रासरूट स्तर तक ले जाना आसान रहेगा। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य मित्र ‘आयुष्मान भारत‘ जैसी योजनाओं के बारे में भी लोगों को जागरूक करेंगे। उन्होंने कहा कि अच्छे चयन से विभाग और समाज को बेहतर परिणाम मिल सकते हैं।

 

मिशन निदेशक नरेश कुमार ठकराल ने इस अवसर पर निरोगी राजस्थान, राष्ट्रीय टीकाकरण मिशन सहित कई विषयों पर विस्तार से चर्चा की। निदेशक जन स्वास्थ्य के के शर्मा और निदेशक आरसीएच श्री आरएस छींपी ने स्वास्थ्य मित्रों के चयन के लिए योग्यता व चयन के तरीके का भी प्रस्तुतिकरण दिया। उन्होंने सभी अधिकारियों को आगामी 15 दिवसों में स्वास्थ्य मित्रों के आवेदन निदेशालय में भेजने के भी निर्देश दिए हैं।

 

इस अवसर पर सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के आयुक्त महेन्द्र सोनी ने कोरोना संबंधी लघु फिल्म को भी प्रदर्शित किया।

लेबल: