गुरुवार, 10 सितंबर 2020

कान्हा टाइगर रिजर्व के अंतर्गत खटिया में हुआ चरवाहा सम्मेलन...

संवाददाता : भोपाल मध्यप्रदेश 


      वन क्षेत्रों में आपराधिक गतिविधियाँ दिखाई देने पर निकटतम बीट गार्ड को अनिवार्य रूप से सूचित करें। वन क्षेत्रों में अवैध शिकार, अवैध कटाई, अग्नि और अतिक्रमण आदि वन अपराध घटित होने की स्थिति में चरवाहों और बीट गार्ड से सामंजस्य बनाकर कार्य किया जाये।



मण्डला जिले में स्थित कान्हा टाइगर रिजर्व के खटिया वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 13 ग्राम के 24 चरवाहों का ईको सेंटर खटिया में हुए चरवाहा सम्मेलन में वन अधिकारियों द्वारा सजग किया गया। चरवाहों से अपील की गई कि वे वन एवं वन्य-प्राणियों की सुरक्षा में अहम भूमिका निभाकर वन विभाग के सहयोगी बनें।।


बफर जोन वन मण्डल कान्हा टाइगर रिजर्व के उप संचालक और अन्य अधिकारियों ने चरवाहों और संबंधित बीट गार्डों को पावर प्वाइंट प्रजेन्टेशन के जरिए वन क्षेत्रों में घटने वाले अपराधों में रोकथाम की बारीकियों से अवगत कराया।


लेबल: