मंगलवार, 8 सितंबर 2020

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कैबिनेट की अहम बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में कुल 60 एजेंडों पर मुहर लगी...

संवाददाता : पटना बिहार


बिहार एक झलक में, बिहार की प्रमुख खबरें  :


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में कैबिनेट की अहम बैठक संपन्न हुई। इस बैठक में कुल 60 एजेंडों पर मुहर लगी है।


जल जीवन हरियाली को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने समीक्षा बैठक की। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी समेत कई अधिकारी और कई जिलों के डीएम ने भी भाग लिया। बैठक नेक संवाद में वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की गई।इस दौरान मुख्यमंत्री ने कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 1 अणे मार्ग स्थित नेक संवाद से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 की अद्यतन स्थिति एवं उसकी रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों के संबंध में समीक्षा बैठक की। कोविड-19 की अबतक 41 लाख 75 हजार 922 जांच की जा चुकी है। प्रतिदिन डेढ़ लाख से ज्यादा जांच की जा रही है। राज्य का रिकवरी रेट 88.67 प्रतिशत है जो कि राष्ट्रीय औसत 77.31 प्रतिशत से करीब 11 प्रतिशत अधिक है।

विगत 24 घंटे में कोविड-19 के 1,369 नये मामले सामने आये हैं। वर्तमान में बिहार में कोविड-19 के 16,120 एक्टिव मरीज हैं। पिछले 24 घंटे में 1,53,156 सैंपल्स की जांच की गई है। आपको बता दें कि यहां रिकवरी रेट में निरंतर सुधार हो रहा है, जबकि पॉजिटिविटी रेट में भी कमी आ रही है।

वहीं सरकार का रोजगार सृजन पर विशेष ध्यान है और लॉकडाउन पीरियड से लेकर अभी तक 05 लाख 60 हजार 252 योजनाओं के अंतर्गत 14 करोड़ 75 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों से कोविड-19 से बचाव हेतु किए जा रहे कार्यों की गहन समीक्षा की। इस मौके पर मुख्यमंत्री को पूर्वी चंपारण के जिलाधिकारी ने संक्रमण से बचाव हेतु किए जा रहे अपने जिलों में कार्यों की विस्तार पूर्वक जानकारी दी।




मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में COVID-19 से संबंधित वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए बैठक की गई। बैठक में वैशाली जिला पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने भाग लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों की समीक्षा की गई। इस बैठक में पूर्णिया जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में जांच की संख्या लगातार बढ़ रही है। वर्तमान में पॉजिटिविटी रेट 2.8% तथा रिकवरी रेट 85% हैI

मुख्यमंत्री के द्वारा कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव, सभी प्रमंडलीय आयुक्तों तथा सभी जिला के जिला पदाधिकारी ने भाग लिया। मधुबनी जिलाधिकारी ने जिला प्रशासन के द्वारा किए जा रहे कार्यों का प्रस्तुतिकरण मुख्यमंत्री के समक्ष दिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कई दिशा-निर्देश दिए।

बेतिया जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने समाहरणालय सभागार में निर्वाचन विभाग से संबंधित कार्यों की गहन समीक्षा की। उन्होंने कहा कि स्वच्छ, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण निर्वाचन सम्पन्न कराने हेतु सभी निर्वाचन अधिकारियों एवं कर्मियों को पूरी सावधानीपूर्वक अपने दायित्वों का निवर्हन करना होगा।

गया जिला स्तरीय जयप्रकाश नारायण अस्पताल में गहन चिकित्सा इकाई का उद्घाटन जिला पदाधिकारी के द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि इस अस्पताल में आईसीयू के निर्माण होने से शहरी क्षेत्र के लोगों को गहन चिकित्सा हेतु काफी सहूलियत होगी। उन्होंने सिविल सर्जन तथा डीपीएम को निर्देश दिया है कि इस आईसीयू इकाई में सभी मान्य सुविधा उपलब्ध कराई जाए ।

जहानाबाद में आई.सी.डी.एस. अंतर्गत राष्ट्रीय पोषण माह कार्यक्रम का शुभारंभ जिला पदाधिकारी ने किया। राष्ट्रीय पोषण अभियान कार्यक्रम में जिला पदाधिकारी द्वारा शपथ दिलायी गयी। उन्होंने कहा कि इस वर्ष न्यूट्री गार्डन पर खास जोर है। उन्होंने सभी महिला पर्यवेक्षिका तथा आंगनबाड़ी सेविका/सहायिका से अपील की है कि न्यूट्री गार्डन बनाने के कार्य पर ध्यान देकर सरकार की मुहिम को सफल बनाएं।

मुजफ्फरपुर राष्ट्रीय पोषण अभियान अंतर्गत पोषण परामर्श केंद्र का उद्घाटन जिलाधिकारी और उप विकास आयुक्त द्वारा किया गया। मौके पर डीपीओ आईसीडीएस, डीपीआरओ, सीडीपीओ सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। पोषण परामर्श केंद्र पूरे एक माह तक कार्यरत रहेगा। इस दौरान परामर्श केंद्र के माध्यम से कोविड-19 के दौरान सुरक्षात्मक उपायों को ध्यान में रखते हुए पोषण संबंधित जानकारी दी जाएगी।

अरवल समाहरणालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भारतीय निर्वाचन आयोग के तत्वाधान में आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला पदाधिकारी रविशंकर चौधरी , सभी कोषांगों के प्रतिनियुक्त वरीय नोडल पदाधिकारी एवं नोडल पदाधिकारी शामिल हुए। इस मौके पर निर्वाचन आयोग ने कई आवश्यक दिशा –निर्देश दिए।

किशनगंज जिला पदाधिकारी डॉ.आदित्य प्रकाश की अध्यक्षता में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान कई दिशा निर्देश दिए गये ,एवं सातों प्रखंड में 5 विद्यालयों को चिन्हित कर आधुनिक संसाधनों से सुसज्जित मॉडल विद्यालय बनाने का निर्देश दिया गया।

सीतामढ़ी जिलाधिकारी ने कोरोना संक्रमण को लेकर वरीय पदाधिकारियों सहित स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों के साथ समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में बैठक कर कई निर्देश दिए । उन्होंने बीडीओ, सीओ, थानाध्यक्ष को निर्देश देते हुए कहा कि मास्क पहनने, सामाजिक दूरी का पालन करने एवं सरकार के दिशा निर्देशों का हर हाल में पालन हो, इसे हर हाल में सुनिश्चित करें।


लेबल: