सोमवार, 7 सितंबर 2020

 दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने किया राजीव चौक मेट्रो स्टेशन का दौरा, लिया तैयारियों का जायज़ा...


संवाददाता : नई दिल्ली



      दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने 7 सितंबर से दिल्ली में मेट्रो सेवाओं की बहाली के लिए दिल्ली मेट्रो और दिल्ली परिवहन विभाग द्वारा की गई तैयारियों का जायजा लेने के लिए आज राजीव चौक मेट्रो स्टेशन का दौरा किया। निरीक्षण के दौरान  उनके साथ दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (डीएमआरसी) और दिल्ली  परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

 

इस दौरान उन्होने कहा “मुझे ख़ुशी है की दिल्ली में कल से मेट्रो सेवाएं फिर से शुरू हो जाएंगी। मैने आज राजीव चौक मेट्रो स्टेशन का दौरा कर तैयारियों का जायज़ा लिया।  मैं डीएमआरसी की तैयारियों से संतुष्ट हूँ। मुझे यह देख कर खुशी हुई  कि राजीव चौक मेट्रो स्टेशन, जो सबसे व्यस्तम स्टेशनों में से एक है, वहां डीएमआरसी ने सभी सावधानियां बरतीं हैं और  एसओपी का पूरी तरह पालन किया हैं। हम लोग स्टेशन के अंदर और बाहर सिविल डिफेन्स वालंटियर्स को तैनात कर रहे हैं, जो भीड़ को नियंत्रित करेंगे और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित कराएंगे।

 


 

गलहलोट ने कहा कि मैं दिल्ली वालों से अपील करता हूँ की वे मेट्रो स्टेशनो पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे। मुझे विश्वास है कि यदि हमने सभी  प्रोटोकॉल का जिम्मेदारी से पालन किया, तो हम 'दिल्ली मॉडल ऑफ फाइटिंग कोविड' में एक और बेंचमार्क सेट कर पाएंगे।

 

दिल्ली में मेट्रो परिचालन चरणबद्ध तरीके से 7 सितंबर से शुरू होगा। फिलहाल कुछ स्टेशनो पर सेवाएं बंद रहेंगी, परन्तु 12 सितम्बर से सारे स्टेशनो पर सेवाएं बहाल हो जाएंगी।  कोविड महामारी को देखते हुए, दिल्ली मेट्रो में यात्रियों की सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए दिल्ली परिवहन विभाग कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। दिल्ली परिवहन विभाग ने भीड़ को प्रबंधित करने और सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित कराने के लिए मेट्रो स्टेशनों पर सिविल वालंटियर्स को तैनात किया है।

 

इसके अलावा सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करने के लिए स्टेशनों और ट्रेनों के अंदर मार्किंग भी की गई है। स्टेशन परिसर में निशान और ट्रेन कोचेज़ में सीटपर स्टीकर लगाएं गए हैं, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके। थर्मल स्क्रीनिंग के बाद केवल स्वस्थ्य व्यक्तियों को ही यात्रा करने की अनुमति होगी। यात्रियों द्वारा उपयोग के लिए प्रत्येक प्रवेश बिंदु पर एक स्वचालित सैनिटाइज़र डिस्पेंसर मशीन भी उपलब्ध कराई गई है।

 


 

फिलहाल, वायरस फैलने के खतरे को देखते हुए  यात्रियों को कोई टोकन जारी नहीं किया जाएगा। स्मार्ट कार्ड का उपयोग और रिचार्ज के लिए ऑनलाइन / कैशलेस लेनदेन ही मान्य होगा और आरोग्य सेतु ऐप के उपयोग को प्रोत्साहित किया जाएगा। डीएमआरसी ने एलेवेटर बटन के साथ हाथ का संपर्क न  हो इसके लिए हर मेट्रो स्टेशन पर एक पैर संचालित लिफ्ट की शुरुआत की है।

 

ट्रेन के कोच में दीवारों पर सुरक्षित यात्रा के लिए  निर्देश  चिपकाए गए हैं। साथ ही हर स्टेशन पर सुरक्षा नियमो की घोषणा लगातार की जाएगी। वर्तमान में, प्रवेश और निकास के लिए केवल एक गेट की अनुमति दी गई है। यात्रियों का मार्गदर्शन करने के लिए सभी महत्वपूर्ण जगहों पर साइन बोर्ड भी लगाए गए हैं।

 


लेबल: