सोमवार, 14 सितंबर 2020

मुख्यमंत्री के निर्देश पर बाढ़ एवं कोविड-19 की स्थिति को लेकर सरकार द्वारा सभी आवश्यक कदम उठाये जा रहे...

संवाददाता : पटना बिहार


बिहार एक झलक में, बिहार की प्रमुख खबरें  :



      मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर बाढ़ एवं कोविड-19 की वर्तमान स्थिति को लेकर सरकार द्वारा लगातार सभी आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं। कोरोना संक्रमण के पॉजिटिविटी रेट में लगातार कमी हो रही है और रिकवरी रेट में उतरोत्तर सुधार हो रहा है। अब बिहार का रिकवटी रेट लगभग 90.32 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत से लगभग 13 प्रतिशत अधिक है।

 



कोरोना संक्रमण से पिछले 24 घंटे में 1,895 लोग स्वस्थ हुए हैं और अब तक 1,43,053 लोग कोविड-19 संक्रमण से स्वस्थ हो चुके हैं। विगत 24 घंटे में कोविड-19 के 1,523 नये मामले सामने आये हैं। अभी बिहार में कोविड-19 के 14,513 एक्टिव मरीज हैं। और अब तक की गयी कुल जांच की संख्या 48,84,417 है।

 



वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का रोजगार सृजन पर पूरा ध्यान है और लॉकडाउन पीरियड से लेकर अभी तक 05 लाख 60 हजार 490 योजनाओं के अंतर्गत 15 करोड़ 18 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है। यही वजह है कि आज की तारीख में सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं लोगों को रोजगार मिल रहा है।

 



अब धीरे-धीरे बाढ़ की स्थिति सामान्य हो रही है गंगा नदी के जलस्तर में बक्सर, दीघा, गांधी घाट, हाथीदह, मुंगेर, भागलपुर एवं कहलगांव में 24 घंटे में क्रमशः 30 सेंटीमीटर, 19 सेंटीमीटर, 16 सेंटीमीटर, 10 सेंटीमीटर, 28 सेंटीमीटर, 07 सेंटीमीटर एवं 09 सेंटीमीटर की कमी हुई है।वहीं कोशी नदी के कोशी बराज, वीरपुर में 1,53,985 क्यूसेक जलश्राव प्रवाहित हुआ है और इसकी प्रवृत्ति भी घटने की है।

 


 



14 सितंबर 2020 को हिन्दी दिवस की 71 वीं वर्षगांठ के अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजभाषा हिन्दी के चतुर्दिक विकास की कामना की है। उन्होंन राज्य के सभी नागरिकों से अपील करते हुए कहा है कि वे अपने हरेक कामकाज में हिन्दी को ही माध्यम के रुप में अपनाएं तथा प्रत्येक क्षेत्र में इसका प्रयोग सुनिश्चित करें।

 



मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर पथ निर्माण विभाग ने पटना घाट से दमड़ाही घाट के बीच सम्पर्क पथ के लिए 15 करोड़ रुपये की मंजूरी दे दी है। इसकी जानकारी देते हुए पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि राजधानी में गंगा नदी के किनारे महावीर घाट से पूरब की ओर बन रहे पथ के विस्तारीकरण के क्रम में पटना घाट से दमड़ाही घाट सम्पर्क पथ के निर्माण के लिए लगभग 15 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी गयी है। साथ ही 8 जिले में पथ निर्माण व इसके विकास से सम्बंधित 8 विविध योजनाओं के लिए 92.18 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई है।

 



अररिया जिला पदाधिकारी ने आईसीडीएस कार्यालय के पास पोषण परामर्श केंद्र का उद्घाटन एवं पोषण जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि कुपोषण को दूर करने के लिए सामुदायिक सहभागिता की जरूरत है। पोषण परामर्श केंद्र की मदद से शिशुओं, बच्चों, किशोरियों, गर्भवती महिलाओं को आवश्यक पोषण की जानकारी प्राप्त करने में काफी सुविधा होगी।

 



थरूहट की कला को बुलंदियों तक पहुंचाने हेतु बेतिया में जिला निबंधन एवं परामर्श केन्द्र परिसर में हस्तशिल्प सेवा केन्द्र, मधुबनी द्वारा कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि इस मंच से एक नयी शुरूआत की जा रही है जिससे थारू जनजाति के लोगों खासकर महिलाओं में क्षमता संवर्धन, कौशल विकास एवं रोजगार व स्वरोजगार का सृजन होगा तथा उनकी जिंदगी में खुशहाली आएगी।

 



मुजफ्फरपुर जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिला पदाधिकारी ने आगामी बिहार विधानसभा निर्वाचन के मद्देनजर ऐसेसिबल निर्वाचकों की डिस्ट्रिक्ट मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक की। उन्होंने PWD कोषांग एवं उपस्थित सभी सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा कि दिव्यांग मतदाताओं को चिह्नित करने के साथ-साथ उनकी सहभागिता के लिए विशेष अभियान को और गति दें। साथ ही उन्होंने चुनाव से संबंधित कई आवश्यक दिशा-निर्देश देये।

 



मोतिहारी जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने अरेराज अनुमंडल अंतर्गत हरसिद्धि सेवराहां मसान माई मंदिर के पास यात्री प्रतिक्षालय शेड निर्माण कार्य हेतु भूमि पूजन किया। इस मौके पर जिला परिवहन पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी व गणमान्य ग्रामीण मौजूद थे।

 



मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना के अंतर्गत बेगूसराय के स्थानीय गांधी स्टेडियम में वाहन मेला का आयोजन किया गया है। इस दौरान जिला पदाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने चयनित 35 लाभार्थियों को वाहन की चाबी सौंपी।

 



बिहार विधान सभा निर्वाचन के संदर्भ में मतदाताओं को मतदान करने के प्रति जागरूक करने के लिए 12 सुसज्जित मतदाता जागरूकता रथ को समाहरणालय परिसर से सहरसा जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह ज़िलाधिकारी कौशल कुमार ने फ्लैग ऑफ कर रवाना किया। इस मौके पर कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 



मगध प्रमंडल आयुक्त असंगबा चुबा आओ की अध्यक्षता में बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारी की समीक्षा की गई। आयुक्त ने कहा कि निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण सफल निर्वाचन सुनिश्चित कराने हेतु निर्वाची पदाधिकारी की अहम भूमिका होती है, साथ ही निर्वाचन में ए.आर.ओ. की भी महत्वपूर्ण जिम्मेवारी होती है। निर्वाची पदाधिकारी को ए.आर.ओ. एसिस्ट करेंगे तथा समय-समय पर भारत निर्वाचन आयोग के महत्वपूर्ण निर्देश एवं निर्वाचन के महत्वपूर्ण कार्यों से अवगत कराएंगे।


लेबल: