सोमवार, 31 अगस्त 2020

मुख्यमंत्री ने ग्राम पंचायतों के साथियों को छत्तीसगढ़ी में लिखा पत्र पोषण माह में सहयोग और भागीदारी की अपील...

संवाददाता : रायपुर छत्‍तीसगढ़


        मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ग्राम पंचायतों के सभी प्रतिनिधि साथियों को छत्तीसगढ़ी में पत्र लिखकर पोषण माह में सहयोग और भागीदारी की अपील की है।


मुख्यमंत्री बघेल ने सभी सरपंच और पंच को सम्बोधित करते हुए लिखा है सितम्बर महीना में महिला बाल विकास विभाग सुपोषण महीना मना रहा है। विभाग ने पूरे महीने के लिए कार्ययोजना बनाई है, जिसमें कुपोषण दूर करने के लिए काम किया जाएगा। उन्होंने कहा है कि इस आयोजन में पंचायत प्रतिनिधियों की भागीदारी और सहयोग जरूरी है।


मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ में सुपोषण की अलख जगाकर छत्तीसगढ़ महतारी के बच्चों को स्वस्थ और सुपोषित बनाने सभी से अनुरोध करते हुए लिखा है कि हमारे छत्तीसगढ़ में कुपोषण एक गंभीर समस्या है। जब से सरकार बनी है, वे बच्चों के स्वास्थ्य और सुपोषण के लिए चिंतित हैं। वे लगातार कोशिश कर रहे हैं, कि हमारे प्रदेश के बच्चे स्वस्थ और सुपोषित रहें। बच्चों में कुपोषण को दूर करने के लिए मैंने पिछले साल 2 अक्टूबर से मुख्यमंत्री सुपोषण योजना चलाई है।



मुख्यमंत्री ने पत्र मे कहा है कि मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान से कुपोषण दूर करने में सफलता मिली है, लेकिन सुपोषित छत्तीसगढ़ की कल्पना आपके सहयोग के बिना नहीं की जा सकती। आप सब जनता के प्रतिनिधि हैं। लगातार जनता के साथ मिलते और बात करते रहते हैं। उनके सुख-दुख में हमेशा साथ रहते हैं। यही समय है कि आप सब अपने क्षेत्र की आम जनता को समझाएं कि कुपोषण कोई बीमारी नहीं है, केवल हमारे खान-पान और रहन-सहन की आदतों में सुधार करने से हम अपने बच्चों को स्वस्थ रख सकते हैं।


मुख्यमंत्री ने सभी सरपंचों और पंचों से अनुरोध करते हुए कहा है कि हमारे समाज और परिवार के बीच यह संदेश जाना चाहिए हमारे बच्चे स्वस्थ रहेंगे, तभी हम स्वस्थ रहेंगे और हमारा समाज और प्रदेश भी स्वस्थ रहेगा।


लेबल: