रविवार, 6 सितंबर 2020

स्वास्थ्य मंत्रालय ने पंजाब और चंडीगढ़ में 10 दिनों के लिए केंद्रीय दलों को भेजा...

संवाददाता : नई दिल्ली


      स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने पंजाब और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में केंद्रीय दलों को तैनात करने का फैसला किया है।


स्वास्थ्य मंत्रालय का यह उच्च स्तरीय दल कोविड-19 बीमारी से होने वाली मौतों की दर को कम करने और लोगों की जान बचाने के उद्देश्य से कोविड बीमारी पर नियंत्रण, निगरानी, ​​परीक्षण और इसके मरीज़ों के कुशल नैदानिक ​उपचार के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को मजबूत करने में पंजाब राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ की सहायता करेंगे। ये केंद्रीय दल कोरोना वायरस के संक्रमण का समय पर निदान (पहचान) करने और इसके बाद उपचार से संबंधित चुनौतियों का प्रभावी ढंग से समाधान करने में राज्य / केन्द्र शासित प्रदेश का मार्गदर्शन करेंगे।


दो सदस्यीय दलों में पीजीआईएमईआर, चंडीगढ़ के एक सामुदायिक चिकित्सा विशेषज्ञ और एनसीडीसी के एक महामारी विशेषज्ञ शामिल होंगे। कोविड के प्रबंधन में गहन मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए इन दलों को दस दिनों के लिए पंजाब राज्य और केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में तैनात किया जाएगा।


पंजाब में कुल 60,013 मामले दर्ज किए गए हैं,जबकि आज की तारीख में वहां 15,731 सक्रिय मामले हैं। पंजाब में अब तक 1739 मौतें दर्ज की गई हैं। राज्य में प्रति दस लाख की आबादी पर 37546 लोगों का परीक्षण किया जा रहा है (वर्तमान में भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर परीक्षण का औसत आंकड़ा 34593.1 है)। राज्य में देश भर में कुल कोविड पॉजिटिविटी का लगभग 4.97%हिस्सा है जो कई राज्यों से कम है।



केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में कोविड-19 के कुल 2095 सक्रिय मामले हैं, जबकि वहां अब तक कुल 5268 मामले सामने आ चुके हैं। प्रदेश में प्रति दस लाख की आबादी पर 38054 लोगों का परीक्षण हो रहा है और अब तक देश भर के कुल पॉजिटिविटी का यहां 11.99% हिस्सा है।


केंद्र उन राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों में बहु-आयामी केंद्रीय दलों को तैनात कर सक्रिय रूप से मदद कर रहा है जहां कोविड मामलों की संख्या में अचानक तेजी देखी जा रही है और जहां उच्च मृत्यु दर दर्ज की जा रही है। ऐसे कई केंद्रीय दलों ने पिछले महीनों में कई राज्यों / केंद्रशासित प्रदेशों का दौरा किया है।


ये दल फिल्ड अफसरों से बातचीत करते हैं और उनके सामने आने वाली चुनौतियों और मुद्दों के बारे में सीधी जानकारी हासिल करते हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ऐसे कई राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों के संपर्क में है जहां पिछले दो दिनों से कोविड-19 मामलों में तेज बढ़ोतरी देखी जा रही है और जहां कुछ जिलों में उच्च मृत्यु दर दर्ज की जा रही हैं। राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों को इस संक्रामक बीमारी के संचरण की श्रृंखला को तोड़ने और मृत्यु दर को एक फीसदी से कम पर रखने के लिए व्यापक उपाय करने की सलाह दी गई है।


लेबल: